बीसीए ( BCA ) क्या है बीसीए कैसे करे

61

अपनी 12वीं कक्षा पूरी करने के बाद हमारे मन में यह सवाल उठना शुरू हो जाता है कि हमें आगे चलकर क्या करना चाहिए हर किसी का अपना अलग-अलग सपना होता है बहुत से लोग यह सोचते हैं कि हम इंजीनियर बनेंगे या फिर हम डॉक्टर बनेंगे मगर उन्हीं में से कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जोकि यह सब ना सोच कर  कुछ अलग करने की सोचते हैं हम बात कर रहे हो डिजिटल मार्केटिंग के बारे में या फिर आप यह कह ले सॉफ्टवेयर इंजीनियर के बारे में हमें पता है डिजिटल मार्केटिंग और सॉफ्टवेयर इंजीनियर दोनों अलग-अलग चीजें हैं मगर यह दोनों एक दूसरे से जुड़े हुए हैं .

अगर आप सॉफ्टवेयर इंजीनियर बन जाते हैं तो फिर आपको डिजिटल मार्केटिंग फील्ड में जाने के लिए ज्यादा मेहनत करने की जरूरत नहीं पड़ेगी .

बीसीए क्या है ( What Is BCA In Hindi ) ?

बैचलर इन कंप्यूटर एप्लीकेशन ( बीसीए )  3 साल का अंडरग्रेजुएट का कोर्स होता है जिसे पूरा करने के बाद हम  एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर कहलाएंगे .

BCA kya hai

आज हम अपने डेली लाइफ में देख सकते हैं कि  कंप्यूटर का उपयोग दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है हर जगह डिजिटल इंडिया के ही चर्चे मशहूर है ऐसे ना ज्यादातर स्टूडेंट्स बीसीए की तरफ अपनी रुचि दिखाना शुरू कर चुके हैं ऐसा बीबीसी के रिपोर्ट में लिखा गया है .

बीसीए में क्या क्या पढाया जाता है 

बीसीए में हम लोगों को वेब डिजाइनिंग , वेब डेवलपमेंट , सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट , सिक्योरिटी , ऑडियो एंड विडियो एडिटिंग , ग्राफ़िक डिजाईन , मैनेजमेंट , etc . टॉपिक्स के बारे में पढाया जाता है हर स्कूल / कॉलेज का अलग अलग टॉपिक्स है पढ़ने का मगर ये सारी टॉपिक्स हर स्कूल / कॉलेज में पढाया जाता है क्योकि यह कॉमन टॉपिक्स होती है बीसीए में .

बीसीए में एडमिशन लेने के लिए हमारे पास क्या क्या कवालीफीकेसन होनी चाहिए ( What Qualification Reqire for BCA In Hindi )?

बीसीए में एडमिशन लेने के लिए हमें 12th अछे परसेंटेज से पास होना चाहिए कम से कम आपको 45% मार्क्स तो अपने बोर्ड में लाने ही पड़ेंगे .

बहुत सारे यूनिवर्सिटी में entrancee एग्जाम क्लियर करने के बाद एडमिशन दिया जाता है तो इसके लिए आपको हमेसा तैयार रहना पड़ेगा .

जब आप किसी भी कौर्स के लिए एडमिशन लेने जाये तो आय , जात , निवास जरुर साथ में लेकर जाये नही तो बाद में आपको कुछ परेसनियो का सामना करना पड सकता है .

बीसीए करने के बाद क्या करे ( After BCA What Next In Hindi ) ?

बीसीए करने के बाद एमसीए ( MCA ) या फिर ( MBA ) की पढाई कर सकते है यह एक मास्टर डिग्री है जिसको करने के बाद आप सोफ्टवेर इंजीनियरिंग में खुद को प्रोफ़्फ़ेस्सिओनल बना सकते है .

अगर आप चाहे तो जॉब के लिए भी अप्लाई कर सकते है बहुत सारे लोग ऐसे है जिनको मास्टर डिग्री  करने की फुर्सत नही है वो लोग जॉब के लिए अप्लाई कर सकते है .

अगर आप बीसीए कर रहे है तो आपके लिए बहुत जरुरी है की आप खुद को expreance जरुर दे ताकि आपने जो पढ़ा है वो भी ना भूले और कम्पनीज आपको जॉब देने में कतराए भी नही .

क्या बीसीए की पढाई करके हम हैकर बन सकते है ( can i become a hacker after completing Bca ) ?

जी हा बीसीए में सोफ्टवेर के बारे पूरी जानकारी दी जाती है जिसको पूरा करने के बाद हम एक beganner एथिकल हैकर बन सकते है .

हैकर बनाने के लिए भी बहुत सरे स्टेप्स / थेओरिएस होती है जैसे की हम हैकिंग कहा से स्टार कर रहे है हम हैकिंग कैसे सिख रहे है यह सब डिपेंड करता है हमारे उप्पर .

आपको तो पता ही होगा हैकिंग कोअडिंग की मदद से की जाती है और बीसीए में हमें सिखाया ही यही जाता है आपको अगर हैकिंग की ज्यादा knowladge चाहिए तो आप खुद एक्सपेरिमेंट करना सुरु कर दे .

क्या बी.टेक बीसीए से अच्छा कौर्स है ( Did B.tech better then BCA Information in hindi ) ?

सभी लोगो की तरह आपको गुमराह करने से अछा है आपको सच बता दू जी हा बी.टेक बहुत आगे है बीसीए से ऐसे इसलिए क्योकि बी.टेक में आपको कंप्यूटर इंजीनियरिंग सिखाया जाता है जिसमे हार्डवेयर एंड सोफ्टवेर दोनों सामिल होते है .

BCA Vs B.tech in hindi

और बात करे बीसीए की तो आपको इसमें सोफ्टवेर के बारे में ही सिर्फ पढाया जाता है जो की बी.टेक के मुकाबले काफी ज्यादा कम है और अगर आप अभी भी यह सोच रहे है की जब बी.टेक बीसीए से अच्छा है तो मै बीसीए करके अपना समय क्यों ख़राब करू और क्यों न बी.टेक करके और आगे बढ़ जाऊ तो दोस्तों आपको मै यही कहना चाहूँगा की हर किसी का एक जैसा सपना नही होता , हर किसी का मकसद अलग होता है बीसीए 3 साल का कौर्स है जिसको आप आसानी से करके जॉब पा सकते हो अगर आपको कंप्यूटर में इंटरेस्ट है तो वही उस्सी चीज को पाने के लिए आपको बी.टेक में 4 साल लगाना पड़ेगा .

बीसीए में कौन कौन से सब्जेक्ट है (  Subjects In BCA )

mathmatics , Environmental Science , Programing In C++ , Communication Language , Fundalmental Of Computer ये पांच subjects आपको बीसीए के पहले सेमिस्टर में पढाये जायेंगे |

अगर बात करे बाकि के सेमेस्टर की तो हर सेमिस्टर के बाद सब्जेक्ट बदलते रहते है आपको चुनने का मौका दिया जायेगा की आप कौन सा सब्जेक्ट पढना पसंद करेंगे जैसे की तीसरी सेमेस्टर के बाद आपको डाटा साइंस पढने का मौका मिलेगा एक बात में समझाए तो आपको सब्जेक्ट के आप्शन दिए जायेंगे उनमे से आप अपने पसंद के हिसाब से सब्जेक्ट का चुनाव कर सकते है |

बीसीए करते समय किन – किन बातो का ध्यान रखना चाहियें

जब आप बीसीए करने की सोच रहे हो और आपको बीसीए की डिटेल नही पता है तो आपको आगे चल कर बहुत परेसानियो का सामना करना पड़ सकता है | सबसे पहली और main समस्या तो जॉब है जी हा दोस्तों अगर आपने बीसीए सिर्फ डिग्री पाने के लिए किया है और सोच रहे हो की मुझे डिग्री के बल पर जॉब मिल जाये तो यह नामुनकिन है आपके पास प्रॉपर एक्स्प्रिएंस होना चाहिए हर एक चीज का क्योकि अगर आपके पास एक्स्प्रिएंस नही होगा और आप लाइव प्रोफोर्मेंसे नही दे पाओगे तो आपको कोई भी कंपनी hire नही करेगी और यह fact है चाहे आप 100 पनना लिक्ख्वा के लेलो .

मै आपको यही सलाह दूंगा आप जितना हो सके c++ प्रोग्रामिंग को अच्छे से प्रैक्टिस करे अगर आपको प्रोग्रामिंग के कॉन्सेप्ट्स क्लियर हो जाते है तो आपको आगे चल कर परेसानियो का सामना नही करना पड़ेगा .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here